Hargobind Khorana Biography In Hindi ,वैज्ञानिक हरगोविन्द खुराना जीवनी


Hargobind Khorana Biography In Hindi

दोस्तों आज की पोस्ट में जानेगे की डॉ. हरगोविंद खुराना के जीवन के 
बारे में तो चलिए शुरू करते है इस पोस्ट को |
 

नाम   - डॉ. हरगोविंद खुराना
पत्नी  -  एस्थर
जन्म  - 9 फरवरी, 1922. रायपूर जि.मुल्तान, पंजाब (अब पाकिस्तान).
पिता   - लाला गणपतराय
पढाई  - 1945 में M. Sc. और 1948 में PHD
कार्य   - वैज्ञानिक

मृत्यु - 09 नवम्‍बर 2011 को इस महान वैज्ञानिक ने अमेरिका के मैसाचूसिट्स में अन्तिम सांस ली।
पुरस्कार: चिकित्सा में नोबेल पुरस्कार (1968), गैर्डनर फाउंडेशन इंटरनेशनल अवार्ड, लुईसा फाउंडेशन इंटरनेशनल अवार्ड, बेसिक मेडिकल रिसर्च के लिए एल्बर्ट लॉस्कर पुरस्कार, पद्म विभूषण

Dr Hargobind Khorana Essay In Hindi डॉ हरगोविंद खुराना एक भारतीय-अमेरिकी वैज्ञानिक थे जिन्होंने प्रोटीन संश्लेषण में न्यूक्लिटाइड की भूमिका का प्रदर्शन कराने वाले प्रथम व्यक्ति थे | उन्हें सन 1968 चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार दिया गया । उन्हें यह पुरस्कार साझा तौर पर दो और अमेरिकी वैज्ञानिकों मार्शल डब्ल्यू. नीरेनबर्ग और डॉ. रॉबर्ट डब्लू्. रैले के साथ दिया गया था ।


 पुरस्कार से सम्मानित -

डॉ हरगोबिन्द खुराना को उनके खोज और कार्यों के लिए अनेकों पुरस्कार और सम्मान दिए गए। इन सब में नोबेल पुरस्कार सर्वोपरि है।
•    सन 1968 में चिकित्सा विज्ञानं का नोबेल पुरस्कार मिला
•    सन 1958 में उन्हें कनाडा का मर्क मैडल प्रदान किया गया
•    सन 1960 में कैनेडियन पब्लिक सर्विस ने उन्हें स्वार्ण पदक दिया
•    सन 1967 में डैनी हैनमैन पुरस्कावर मिला
•    सन 1968 में लॉस्कहर फेडरेशन पुरस्कालर और लूसिया ग्रास हारी विट्ज पुरस्काइर से सम्मानित किये गए सन 1969 में भारत सरकार ने डॉ. खुराना को पद्म भूषण से अलंकृत किया
•    पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ ने डी.एस-सी. की मानद उपाधि दी

 
Tag-har gobind khorana wife,har gobind khorana education,
डॉ. हरगोविंद खुराना की जीवनी | Dr Hargobind Khorana in hindi.
Share:

No comments:

Post a Comment